वेब होस्टिंग क्या है [Web Hosting in Hindi 2021] - Web Hosting Kya Hai

Tuesday, 18 May 2021

वेब होस्टिंग क्या है [Web Hosting in Hindi 2021] - Web Hosting Kya Hai

author photo

अगर आप नहीं जानते वेब होस्टिंग क्या है वेब होस्टिंग कैसे काम करती है, कितने प्रकार की होती है वेब होस्टिंग से सम्बंधित विस्तार से जानकारी आपको बताएँगे Web Hosting Kiya Hai और वेब होस्टिंग की क्या (क्यों) जरुरत है

वेब होस्टिंग क्या है (Web Hosting Kya Hai) - Web Hosting In Hindi 2021

Web Hosting में आपकी Site के Content जैसे Posts, Images, Videos आदि को High Quality वाले Computers पर Store करके रखा जाता है । जिन Computers पर आपकी Website को Host किया जाता है उन विशेष Computers को Server या Web Hosting कहा जाता है


वेब होस्टिंग क्या है साधारण भाषा मे वेब होस्टिंग, एक सर्वर या जगह है जहा इंटरनेट पर उपलब्ध Websites का Data रखा जाता है और इस Data को दुनिया मे कही भी Access किया जा सकता है


किसी भी Website को Internet पर आने के लिए Web Hosting की जरूरत होती है । बिना Hosting के Website का Internet पर होना संभव नहीं हैं  वेब होस्टिंग वह है जिसे आपकी website के लिए छवि, वीडियो, थीम, कंटेट्स को ऑनलाइन स्टोर रखा जाता है उस स्टोरेज को Web Hosting/Server कहा जाता है  ये सर्वर इंटरनेट से जुड़ा होता है और Server ओनर इसे कही भी आईडी और पासवर्ड डाल कर एक्सेस कर सकता है 

Web Hosting क्या है?

वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है?

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है?

वेब होस्टिंग कहाँ से खरीदें?

What is Best Hosting in Hindi 2021? 

Web hosting एक प्रकार की service है जो की हमें अपनी website को Internet पर upload करने की सुविधा प्रदान करती है

  • Example- जिस प्रकार अपने उत्पादों को रखने के लिए आपको एक दुकान रूपी स्थान की आवश्यकता होती है, ठीक उसी प्रकार आपकी बिज़नेस website को online प्रदर्शित होने के लिए web hosting सेवा की जरूरत होती है
  • सीधे और आसान शब्दों में –web hosting आपकी वेबसाइट फाइल्स को Storage Space यानि रहने की जगह और Access यानि सब लोगों तक पहुँचने का जरिया प्रदान करती है 

वेब होस्टिंग के लिए एक पावरफुल सर्वर (एक तरह का कंप्यूटर) की आवश्यकता होती है जिसको हमेशा इंटरनेट से कनेक्ट होना आवश्यक है ताकि हमारी वेबसाइट की जानकारियां 24 घंटे बिना किसी बाधा के उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध हो सकें। वेब होस्टिंग में हम सर्वर को स्वयं मेन्टेन नहीं सकते है क्योंकि इसकी मेंटेनन्स कॉस्ट बहुत ज्यादा होती है। वेब होस्टिंग को मेन्टेन रखने के लिए हमें वेब होस्टिंग कंपनीज (xxx) की आवश्यकता होती है। जिनके पास खुद का पावरफुल सर्वर, टेक्नोलॉजी और टेक्निकल स्टाफ होता है जो Servers की Maintenance टाइम टू टाइम करता है और साथ ही वायरस अटैक आदि से Servers की रक्षा करता है

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है (Web Hosting Kaise Kaam Karti Hai)

जब हम अपना website बनाते हैं तो हम यही चाहते हैं की हम अपना knowledge और information लोगों के साथ बाटें, तो उसके लिए हमे पहले अपने files को web hosting पर upload करना पड़ता है 


Website को किसी भी Hosting Company के Server पर Upload करने के बाद उसके सारे Data को Internet के जरिये कहीं भी देखा जा सकता है


होस्टिंग सेवा आपकी वेबसाइट फाइल्स को web servers (उच्च स्तरीय कम्प्यूटर्स ) पर store कर देती है| जब कोई भी आपकी वेबसाइट तक पहुँचने के लिए उसका address या URL अपने browser (Jaise ki Lovedose.in) में लिखता है, फिर उसके बाद Internet आपके domain name को उस web server से जोड़ देता है जहाँ आपके website का फाइल्स पहले से ही store हो कर रखा गया है. जोड़ने के बाद website का सारा information उस यूज़र के कंप्यूटर मे पहुँच जाता है फिर वहाँ से यूज़र अपने ज़रूरतो के हिसाब से पेज को view करता है और ज्ञान ग्रहण करता है

वेब होस्टिंग (Web Hosting) कितने प्रकार की होती है?

  1. Shared Server Hosting
  2. Virtual Private Server (VPS) Hosting
  3. Dedicated Server Hosting

होस्टिंग प्रोवाइडर्स कई तरह की होस्टिंग सेवाएं हमें Offer करते हैं। जिन्हें हम वेबसाइट बनाते समय अपनी जरूरत के हिसाब से खरीदते हैं। वेब होस्टिंग मुख्यतः 4 प्रकार की होती हैं – आपको किस प्रकार की होस्टिंग लेनी चाहिए ये आपकी वेबसाइट की आवश्यकताओं पर निर्भर करता है क्योंकि हर Business/Website की जरूरतें अलग- अलग होती हैं जिनको ध्यान में रखते हुए ही सही होस्टिंग का चुनाव करना चाहिए

Note:- अपने बिज़नेस की आवश्यकताओं को पहचानें, निर्धारित करें और उनके अनुसार सही वेब होस्टिंग का चुनाव करें

Shared Server Hosting

  • जैसा की नाम से पता चल रहा है - "कि Shared का मतलब शेयर करना या साझा करना", इस प्रकार की होस्टिंग में कई सारे वेबसाइट एक ही सर्वर का उपयोग कर रहे होते हैं 
  • अगर आप एक सीमित बजट के start-up है और आपको लगता है कि आपका वेबसाइट यातायात भी सीमित रहेगा तो शेयर्ड होस्टिंग आपके लिए बढ़िया विकल्प है
  • इस होस्टिंग में इसके एक सर्वर के संसाधन यानी CPU, RAM,Bandwidth इत्यादि का इस्तेमाल कई सारी Websites करती हैं। दूसरी होस्टिंग की अपेक्षा शेयर्ड होस्टिंग सस्ती होती है। इसमें लागत कम आती है इसलिए ये सस्ता होता है
  • शेयर्ड होस्टिंग सस्ती होने के कारण कम ट्रैफिक वाले छोटी व्यावसायिक वेबसाइटों के लिए तो अच्छी होती है लेकिन ज्यादा ट्रैफिक वाली वेबसाइटों के लिए बेकार होती है
  • शेयर्ड होस्टिंग में Linux Shared Hosting, Windows Shared Hosting, Open Source Shared Hosting आदि प्रकार देखने को मिलते हैं
  • भारत में प्रमुख Shared Hosting प्रोवाइडर कपनियां – Hostgator, Bigrock, Godaddy, Hostinger, Bluehost आदि हैं
  • शेयर्ड होस्टिंग सस्ती होती है इसलिए अच्छी नहीं मानी जाती, शेयर्ड होस्टिंग का उपयोग एक ही समय पर बहुत सारी वेबसाइट कर रही होती हैं। जिसके कारण कुछ समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं एक ही सर्वर पर ज्यादा वेबसाइट्स होने के कारण या किसी एक वेबसाइट के सारे रिसोर्स यूज़ कर लेने के कारण सर्वर पर लोड पड़ता है और सारे रिसोर्स यूज़ होने के कारण उस सर्वर पर मौजूद सभी वेबसाइट की स्पीड स्लो हो जाती है और विज़िटर्स को वेबसाइट पर डाटा ना दिख कर एरर दीखता है या डाटा ठीक से नहीं या बहुत समय में दिखता है

Shared Hosting किसके लिए बेहतर है
इस पर ज्यादातर नई साइट्स होस्टेड होती हैं जिनपर ट्रैफिक कम आता है अगर किसी भी साइट पर ट्रैफिक बढ़ता है तो इसका असर सभी साइट्स पर साइट डाउन होने के रूप में सामने आता है। यदि आपका business छोटा है या आप अभी शुरुआत कर रहे हैं तो इस प्रकार का होस्टिंग आपके लिए बहुत ही बेहतर है। यदि आप ब्लॉग बना रहे हैं तो आपको शेयर्ड होस्टिंग से ही शुरुआत करनी चाहिए। Shared hosting में वेबसाइट होस्ट करना बहुत ही आसान होता है। इसमें कई सारे tools और plugins को आप बड़ी आसानी से install कर सकते हैं।

Virtual Private Server (VPS) Hosting

  • ये होस्टिंग, शेयर्ड होस्टिंग से काफी अच्छी होती है और थोड़ी महंगी भी। इसमें सर्वर तो एक ही होता है लेकिन उसके डिस्क का बंटवारा कर दिया जाता है। Shared Hosting में जब आपका Traffic बढ़ने लगे और आपको लगे कि अब Speed Slow होने लगी है तो आप VPS Hosting खरीद सकते हैं । लेकिन फिर भी यहाँ आपको Limit में ही Space मिलता है । Dedicated Hosting इससे  Better है ।
  • इसमें Shared Hosting की तुलना में आपको ज्यादा Space, ज्यादा Speed मिलती है । इसलिए VPS Hosting Shared Hosting की तुलना में अधिक Traffic को झेल सकती है ।
  • VPS होस्टिंग में आप इसके हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर को अपने जरूरत के हिसाब से configure कर सकते हैं। यानी इसके डिस्क स्पेस, बैंडविड्थ इत्यादि को बढ़ा-घटा सकते हैं।
  • यहाँ पर एक सर्वर को अलग-अलग कई सारे virtual servers में बाँट दिया जाता है। एक वेबसाइट के लिए एक वर्चुअल सर्वर दिया जाता है और उस हिस्से पर सिर्फ उसी का अधिकार होता है।
  • VPS hosting एक hotel के रूम की तरह होता है. जहाँ उस room के सारे चीजों पर बस आपका हक रहता है. इसमें और किसी का भी शेयरिंग नहिं होता
  • भारत में प्रमुख VPS Hosting प्रोवाइडर कपनियां – Hostgator, Bigrock, Godaddy, Hostinger, Bluehost आदि हैं।

VPS होस्टिंग का कौन उपयोग करता है

कम मात्रा में ट्रैफ़िक पाने वाली छोटी वेबसाइटें भी VPS होस्टिंग का लाभ उठा सकती हैं। यदि आपको लगता है की आपकी साइट की लोडिंग स्पीड कम हो रही है, तो आप एक shared hosting की तुलना में VPS होस्टिंग को चुनना बेहतर होगा।

Dedicated Server Hosting

  • जिनकी website पर हर महीने ज्यादा visitor आते हैं ये hosting सिर्फ उनके लिए ही सही है और उनके लिए भी जो अपने website से ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं. बहुत सारे e-commerce site जैसे Flipkart, Amazon, Snapdeal dedicated hosting ही इस्तेमाल करते हैं 
  • Dedicated Hosting मे एक Server पर एक से अधिक Website या Blog को आसानी से चला सकते है।
  • इस होस्टिंग में आपके server और संसाधन का उपयोग दूसरो के लिए प्रतिबंधित होता है,उन्हें सिर्फ आप उपयोग में ले सकते है
  • डेडिकेटेड होस्टिंग का एक फायदा यह भी है की आप अधिक ट्रैफिक की वजह से होने वाले नुकसान से बच सकते हैं। इससे आपकी वेबसाइट की स्पीड और performance increase होती है।

वेब होस्टिंग कहाँ से खरीदें?

Best Web Hosting Companies:-

  • BlueHost
  • Hostgator
  • Godaddy

Bluehost

दोस्तों मैंने आजतक BlueHost की होस्टिंग प्रयोग की है और मेरा एक्सपेरिएंस भी यही कहता है इससे acch बेस्ट होस्टिंग मुझे कोई नहीं लगती ज्यादातर ब्लॉगर वर्डप्रेस(wordpress) प्रयोग करते है ब्लॉगिंग के लिए और वर्डप्रेस ने ऑफिशियली कहा है की bluehost होस्टिंग बेस्ट है वर्डप्रेस के लिए ,बहोत से टॉप इंडियन ब्लॉगर ने भी कहा है की bluehost Company बेस्ट है webhosting के लिए लेकिन आपको पता है bluehost IN  इंडिया का सर्वर अलग है और bluehost US का सर्वर अलग है 



BlueHost 80% Off on Hosting

दिए हुए लिंक पर  Click करे और फिर अगर आपका Hindi Blog है तो आप यहाँ आप Country को India सेलेक्ट कर सकते हो और होस्टिंग खरीद सकते हो और अगर आपका English Blog या Multiple Niche पर है तो आप USA ही रहने दो क्योंकि आपका Traffic जयादा United State (US) से आयेगा फिर आपको उस की होस्टिंग ही ख़रीदनी है

दोस्तों आपको पता होना चाहिए Bluehost की होस्टिंग 2 प्रकार की है No.1 India Bluehosting 2nd. US Bluehost - bluehost इंडिया से होस्टिंग ख़रीदे या bluehost Us से | अगर आप मुझपर ट्रस्ट करो तो मै आपको कहुंगा आपको उस की US Bluehost खरीदना चाहिए क्योंकि bluehost इंडिया की  होस्टिंग बेकार है ऐसा मैंने इंटरनेट मे यूजर के ओपिनियन पढ़े थे जिन्होंने bluehost IN का सर्वर यूज़ किया है  उन्होंने कहा है की bluehost इंडिया की होस्टिंग बहोत बेकार है ना तो कस्टमर केयर सर्विस अच्छी है और ना ही अपटाइम

अब ऐसे मे अगर आपने हिंदी ब्लॉग बनाया है और आप इंडिया को टारगेट करना चाहते है तो Bluehost india से होस्टिंग को खरीदना सही है  ऐसा इसलिए कह रहा हु क्यों की अगर आपका सर्वर इंडियन मे होगा तो आपके ब्लॉग की स्पीड Bluehost US से ज्यादा होगी और ज्यादा स्पीड वाले ब्लॉग को गूगल ज्यादा पसंद करता है और सर्च इंजन मे ज्यादा जल्दी इंडेक्स करता है 

लेकिन अगर आपका ब्लॉग इंग्लिश मे है और आप टारगेट आल कंट्री है तो आपको सलाह दूंगा की आप bluehost US से ही होस्टिंग ख़रीदे क्यों की bluehost IN से ज्यादा Bluehost US 10 गुना अच्छा है इसलिए bluehost US बेस्ट है होस्टिंग के लिए

Thanxx My Dear Lovely Readers.

Next article Next Post
Previous article Previous Post